Hindi 3

  • ㆍISBN : 9788928240586
  • ㆍPages : 308

पवित्र आत्मा जो मेरे अन्दर रहता है - आपके लिए पवित्र आत्मा पाने का सुरक्षित रास्ता

Paul C. Jong

मसीही धर्म में, सबसे ज्यादा चर्चित समस्या “पापों से उद्धार” और “पवित्र आत्मा का अंतर्निवास” है। हालाँकि, इस बात को जानते हुए की मसीही धर्म में यह दोनों बहुत ही महत्वपूर्ण विषय है, कुछ लोगों के पास इन दोनों के बारे में सटीक ज्ञान है। सबसे बुरी बात यह है की, हम बाइबल आधारित किसी भी लेख को नहीं पाते जो ऊपर दी गई समस्याओं के बारे में हमें स्पष्ट रूप से सिखाते हो। ऐसे कई मसीही लेखक है जो पवित्र आत्मा के वरदानो या आत्मा से भरे जीवन के बारे में लिखते है। लेकिन उनमें से कोई भी इस मुख्य प्रश्न को पूछने की हिम्मत नहीं करता की, “एक विश्वासी कैसे निश्चित तौर पर पवित्र आत्मा को पा सकता है?” क्यों? अचंबित कर देनेवाला सत्य यह है की वे इसके बारे में विस्तृत रूप से नहीं लिखते क्योंकि उनके पास इसके बारे में सटीक ज्ञान नहीं है। जैसे भविष्यवक्ता होशे ने कहा है, “मेरी प्रजा ज्ञान के अभाव के कारण नाश हो रही है”, इन दिनों, कुछ मसीही पवित्र आत्मा पाने की आशा में धार्मिक कट्टरवाद में नहीं है। वे ऐसा विश्वास करते है की वे आवेश और उन्माद की स्थिति में पहुँचकर पवित्र आत्मा को पा सकते है। लेकिन यह कहना अतिशयोक्ति नहीं होगा की उनके कहे जानेवाले विशवास ने मसीही धर्म को एक शमनवाद बना दिया है, और ऐसी कट्टरता शैतान की ओर से आती है।
लेखक रेव. पोल सी. जोंग ने सत्य की घोषणा करने की हिम्मत की। उन्होंने महत्वपूर्ण विषय को विस्तृत रूप से समझाया है, जो कई आत्मिक लेखको ने लम्बे समय से टाल दिया था। उन्होंने पहले “नया जन्म पाना” और “पवित्र आत्मा के अंतर्निवास” के मतलब को समझाया है और इन दोनों मूलभूत सिध्धांतो के बिच के अनिवार्य रिश्ते को समझाया है। फिर वह पवित्र आत्मा के सम्बंधित विवरण को पूरी रीति से समझाते है, “आत्मा को कैसे पहिचाने” से लेकर “आत्मा से भरपुर जीवन के मार्ग” तक। ज्यादा जानकारी के लिए, लेखक आपको इस वेब पेज पर पोस्ट की गई इस पुस्तक की विषय सूची की जांच करने की सलाह देते है।

livre audio
HI/03/Ch1_पवित्र आत्मा परमेश्वर के वायदे के वचन के अनुसार कार्य करता है.mp3
En raison du COVID-19 et l'interruption du service postal international,
nous avons suspendu temporairement notre "service gratuit de livres imprimés".
Au vu de cette situation, nous ne sommes pas en mesure de vous envoyer les livres actuellement.
Priez que cette pandémie cesse rapidement et que le service postal reprenne.